Photo Basics

June 30, 2019

June 30, 2019

Camera and Smartphone together
Learn Photography

Smartphone, DSLR, Mirrorless Cameras | Best camera to buy in India |

स्मार्टफोन , DSLR ,मिररलेस कैमरा Best camera to buy in India |

Image by <a href="https://pixabay.com/users/fernandozhiminaicela-6246704/?utm_source=link-attribution&utm_medium=referral&utm_campaign=image&utm_content=3992128">fernando zhiminaicela</a> from <a href="https://pixabay.com/?utm_source=link-attribution&utm_medium=referral&utm_campaign=image&utm_content=3992128">Pixabay</a>
Mobile and a Camera : Image by fernando zhiminaicela from Pixabay

ये बात बिलकुल सही है की आज के डोर में फोटोग्राफी बेहद ही पसंदीदा शोक बनता जारहा है | हर उम्र के लोग इसे सिखने में रुचि रखते है | और रखे भी क्यों न यह ताकत ही ऐसी है इसके जरिये आप समाज में बदलाव तो ला हे सकते है साथ साथ अपना घर भी चला सकते है |

फोटोग्राफी शोक के तोर पर करे या इसे पूरे वक़्त नौकरी की तरह करे आपको कोई न कोई कैमरा की तो आवश्यकता होगी ही |

स्मार्टफोन कैमरा , DSLR  , मिररलेस कैमरा आपको कोनसा Best camera खरीदना चाहिए In India | इसकी शुरुआत एक एक करके हर कैमरा के बारे में समझाकर करता हु जिससे आपको खुदबखुद पता लग जाएगा की आपको कोनसे कैमरे की आवश्यकता है | इस आर्टिकल को अंत तक पढ़िए इसमें एक बोनस कैमरा भी है |

सबसे पहले नंबर पर है |


स्मार्टफोन कैमरा

Smar Phone Camera : Image by Free-Photos from Pixabay
Smar Phone Camera : Image by Free-Photos from Pixabay

इंस्टाग्राम जैसी फेमस फोटो उप्लोअडिंग साइट्स को देखते हुए बहुत से लोग उसपर फोटोज अपलोड करते है जिसके कारन लोगो में स्मार्टफोन फोटोग्राफी के प्रति नई रुचि जगी है | इसी की वजह है की आजकल की स्मार्टफोन इंडस्ट्री इतने बड़े पैमाने पर बेस्ट कैमरा फ़ोन्स बनाने में जुटी हुई है |

बाजार में हर किसी के बजट व् जरुरत के हिसाब से स्मार्टफोन आते है और यह भी सत्य है की जितना महंगा फ़ोन होगा उसमे कैमरा का हार्डवेयर उतना अच्छा दिया जाएगा |

वही कुछ कम्पनिया सॉफ्टवेयर के जरिये भी सस्ते फ़ोन में DSLR  जैसे इफ़ेक्ट लाने की कोशिश कररही है | जिसे आम इंसान तो नहीं लेकिन इंडस्ट्री एक्सपर्ट बड़ी आसानी से पकड़ सकते है|

स्मार्टफोन कैमरा आजकल के समय में 48 मेगापिक्सेल जितनी फोटो दे रहे है | लेकिन स्मार्टफोन कैमरा का सेंसर साइज काम होता है और इनमे कोई फिजिकल शटर भी नहीं होता जिसके वजह से इन कैमरा से DSLR  या मिररलेस जैसी डेप्थ तो नहीं मिल पति लेकिन इतना तय है अगर इन सब चीजों को चोरडीअ जाए तो इन कैमरा से खींची फोटो बेहद उत्तम क्वालिटी की होती है |

अगर आप स्मार्टफोन फोटोग्राफी में रुचि रखते है तो आप One Plus , या Google Pixel जैसे स्मार्टफोन में इन्वेस्ट कर सकते है |

मेरी माने तो शुरुआत स्मार्टफोन से हे करे क्यूंकि इनमे लेंस फिक्स रहता है और आपको कम्पोजीशन ठीक करने के लिए आगे पीछे खुद होना पड़ता है जिसके परिणाम स्वरुप आप अपने फ्रेम व् कम्पोजीशन को सुधर लेते हो |

Best camera to buy in India


DSLR कैमरा |

DSLR : Image by TeroVesalainen from Pixabay
DSLR : Image by TeroVesalainen from Pixabay

DSLR  का मतलब होता है डिजिटल सिंगल लेंस रिफ्लेक्स |

इसका मतलब है की पहले के वक़्त में लाइट जब कैमरा में आती थी लेंस के जरिए तो सामने क्या फोटो बानरहि है यह व्यूफिंडर में नहीं दिखती थी | इसके लिए अलग से लेंस होता था जो ठीक उसके ऊपर होता था जिसके जरिए इमेज विएवफिन्दर में दिखती थो और हल्का सा फोटो में बदलाव आता था |

लेकिन अब DSLR के अंदर एक मिरर होता है जिसके जरिये लाइट एक हे लेंस के जरिये कैमरा में आती है मिरर से टकराकर व्यूफिंडर  और इमेज सेंसर दोनों तक पहुँचजाति है | इस वजह से इसे सिंगल लेंस रिफ्लेक्स कहा जाता है | और डिजिटल इसलिए क्यूंकि जो भी फोटो बनती है वो डिजिटली हमें दिखती देती है कैमरा की एलसीडी स्क्रीन पर |

DSLR कैमरा शुरुआती खोजो पर काम करके बनाया गया  विज्ञान का एक अध्भुत करिश्मा है | इसमें सेंसर का साइज फ़ोन कैमरा के मुकाबले काफी बड़ा होता है

और इसमें हम लाइट को काफी हद तक अपने हिसाब से कैमरा सेंसर तक जाने में  मदद कर सकते है |

DSLR मोबाइल फ़ोन के प्राइस में भी आजाता है और उससे अछि क्वालिटी प्रदान करता है |

 शुरुआती DSLR 30000 के निचे आजाते है आप जानना चाहते है की कोनसे DSLR 30000 के निचे है तो उसके लिए यहाँ क्लिक करे (लिंक )

  DSLR  के जरिये आप एक तस्वीर में हजार तरीके से बदलाव् ला सकते है | जैसे अपर्चर कम करके बैकग्राउंड ब्लर बढ़ा सकते है और शटर कम  या ज्यादा करके भी बदलाव कर सकते है |

Best camera to buy in India


मिररलेस कैमरा

Mirrorless Camera : Image by Muhammad Ribkhan from Pixabay
Mirrorless Camera : Image by Muhammad Ribkhan from Pixabay

यह कैमरा DSLR या स्मार्टफोन के मुकाबले एकदम अलग है | जैसा की नाम से ही साफ़ है इस कैमरा में मिरर यानि शीशा नहीं होता जो की DSLR  में देखने को हमें मिलता है |

इस कैमरा में फिजिकल और इलेक्ट्रॉनिक शटर दोनों होते है जिसकी वजह से यह कैमरा सीलेंड मोड में बहुत अच्छे से काम करते है | इन कैमरा का इस्तेमाल फिल्म सेट पर ज्यादातर होता है वहां एकदम शांति चाहिए होती है और DSLR  का मैकेनिकल शटर का शोर उस शांति को भांग कर सकता है |

इस कैमरा में जैसा की अपने पड़ा मिरर नहीं होता तो आपको सीधा सीधा वही दीखता है जो आप फोटो खींचने वाले है किसी भी तरीके का लाइट लोस्स या रिफ्लेक्शन या ब्लैकआउट नहीं आता |

इसका व्यूफिंडर भी इलेक्ट्रॉनिक होता है जो की बेहद अछि क्वालिटी का बना होता है | जो आपको एकदम सही एक्सपोज़र दिखने में मदद करता है फोटो खींचने से पहले ही |

इन कैमरा के सेंसर काफी शक्तिशाली होते है और ये रात में या काम रौशनी में बेहद अछि फोटोग्राफी करने की क्षमता रखते है आजकल SONY  और Pannasonic  जैसी बॉन्ड्स बेहद अचे मिररलेस कैमरा बना रही है जिनमे से एक है सोनी का

Sony a7 mark III

Sony a7 Mark III | Best camera to buy in India

आखिरी की बोनस जो कैमरा है वो है पोलरॉइड कैमरा

फुजीफिल्म इंस्टैक्स मिनी 9

Fuji Film Instax Mini 9

यह कैमरा एक पोलरॉइड कैमरा यदि आपको हाथो हाथ कैमरा में से फोटो चाहिए तो

ये कैमरा आपके लिए है | यह कैमरा फोटो खींचने के तुरंत बाद आपको उसका प्रिंट निकाल कर देदेता है |

इस प्रिंटेड फोटो का साइज 54*86mm होता है और यह आप कही भी साथ लेकर जा सकते है|

इस कैमरा से आप अपनी यादो को प्रिंट करके रख सकते है| यह कैमरा बेहद ही सस्ता है एक स्मार्टफोन से भी सस्ता |

तो ये थे कुछ कैमरा के प्रकार, आशा करता हु की आपको जिस कैमरा की जरुरत है आप उसके बारे में जान गए होंगे | एक बार फिरसे समझदेता हु |

यदि आपको फोटोग्राफी शौकिया तोर पर  करनी है तो आप स्मार्टफोन या पोलॉइड कैमरा के लिए  जा सकते है हालाँकि आजकल स्मार्टफोन फोटोग्राफी में भी बेहद कम्पेटेशन्स है और इनकी भी अलग गैलरी लगती है क्यूंकि अंतत: कैमरा नहीं फोटोग्राफर के ऊपर निर्भर है की किस प्रकार की फोटो खिचता  है |

वही दूसरी और अगर आप ज्यादा गहराई से फोटोग्राफी सिखने में रूचि रखते है तो मई आपको राय दूंगा की आप DSLR या मिररलेस कैमरा के लिए जाये |

क्यूंकि इनमे आप अछे  तरीके से लाइट को काबू में कर सकते है और फोटोग्राफी में सबसे ज्यादा जरुरी लाइट ही होती है |

इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए धन्यवाद् आप मुझसे किसी भी तरह का सवाल फोटोग्राफी से संभंधित पूछ सकते है मई ख़ुशी ख़ुशी उसका जवाब देना पसंद करूँगा |

https://www.photobasics.in/learn-photography-in-hindi/best-camera-under-35000/
featured-image
Learn Photography

Career in photography after 12th|भारत में फोटोग्राफी का क्या स्कोप है |

भारत में फोटोग्राफी का क्या स्कोप है | Career in photography after 12th |

फोटोग्राफी आज क समय में बेहद तेजी से बढ़ता हुआ प्रोफेशन मन जारहा है. इंस्टाग्राम जैसी वेबसाइट भी इसे बढ़ावा देरही है | आजकल सभी स्मार्टफोन्स ज्यादा ध्यान उनके कैमरा पर रखरहे है जिसकी एक हे वजह है लोगो में फोटोग्राफी के प्रति रूचि |

एक कहावत है की “सिखने की कोई उम्र नहीं होती “|

यह कहावत फोटोग्राफी पर भी लागू होती है | फोटोग्राफी आप किसी भी उम्र में सिख सकते है | फोटोग्राफी सिखने के लिए आपको दुनिया को अलग नजरिये से देखना आना चाहिए | इसके साथ साथ आप अगर टेक्नीकी रूप से भी इसमें महारथ हासिल करले तो क्या हे कहने |

ये तो आप जानते ही है की फोटोग्राफी को महंगा शौंक भी कहा गया है , क्यूंकि इसमें इस्तेमाल होने वाले कैमरा और बाकि के सरे इक्विपमेंट्स जैसे त्रिपोड्स लाइट्स रेफ्लेक्टर्स आदि बेहद महंगे आते है | लेकिन अगर आप धीरे धीरे इन सब में इन्वेस्ट करे तो आप सब कुछ ले सकते है |

सबसे पहले बात  करते है की photography कहाँ सिख सकते है |

भारत में अलग अलग राज्यों में फोटोग्राफी के बहुत सारे इंस्टिट्यूट है जिनमे आप हजारो रूपए देकर फोटोग्राफी सिख सकते है | आप अपने हिसाब से उन्हें गूगल कर सकते है | यदि आप पैसे सिर्फ एकुप्मेंट में खर्च करना चाहते है

तो उसके लिए इंटरनेट से बेहतर कोई भी ऑप्शन नहीं  है | इंटरनेट पर बहुत से फोटोग्राफर आपको एकदम मुफ्त में फोटोग्राफी सिखाते है | और यदि आप ध्यान दे और समय समय पर प्रक्टिसे करते रहे तो आपको काफी कुछ सिखने को मिल सकता है |

Learn from experts! Udemy online courses start at ₹504 during our September Savings.

Udemy जैसी ऑनलाइन websites जहाँ आपको एक ही जगह पर हजारो कोर्सेज मिलजाएँगे वो भी बहुत ही काम पैसो में | इनमे से बहुत से कोर्सेज तो आपकी पॉकेट मनी से भी कम है | सोचिये अगर आपकी पॉकेट मनी का कुछ हिस्सा सिखने में लगजाये जो आने वाले समय में लाखो कमा कर देगा तो इसमें कोई हर्ज नहीं है |

अगर आप इंस्टिट्यूट वाला विकल्प नहीं चुनना चाहते है तो मै आपको ये विकल्प चुनने के लिए कहूंगा | क्यूंकि ऑनलाइन कोर्स आप कही भी बैठे बैठे सिख सकते है |

आप कही ट्रेवल करते समय घरमे फ़ोन में कही भी दुनिया के किसी भी कोने में इसे आसानी से सिख सकते हैं |

ऐसा ही एक कोर्स है The Ultimate Guide to Digital Photography for Beginners

Udemy Course

एक बार इसके फायदे जरूर देखे |

और यदि ये भी नहीं करना चाहते तो फिर आप फोटोबासिक्स पर भी फोटोग्राफी सिख सकते है | वो भी बिलकुल मुफ्त में |

जब आपको एक बार ज्ञान हो जाएगा फोटोग्राफी का इसके बाद आपके सामने बहुत से रास्ते है |

अब आपको सबसे पहला काम यह करना है की अपने आप का एक अच्छा सा पोर्टफोलियो त्यार करना है |

मानलीजिए आप एक फैशन फोटोग्राफर बनना चाहते है तो उसके लिए आपको फैशन फोटोग्राफी के टेक्निको को ज्यादा अच्छे से समझना होगा | उसके बाद खुद काम करना होगा फैशन फोटोग्राफी के ऊपर | आप अपना पोर्टफोलियो हर वक़्त त्यार रखे इसके लिए आप एक वेबसाइट भी बना सकते है जिसपर आप अपने फोटोग्राफ्स अपलोड करते जाये | जब भी आप किसी जॉब के लिए जाए तो आपको अपना पोर्टफोलियो दिखने में आसानी रहेगी |

Career in photography after 12th |

How to earn money in wedding photography

Image by <a href="https://pixabay.com/users/Free-Photos-242387/?utm_source=link-attribution&utm_medium=referral&utm_campaign=image&utm_content=691901">Free-Photos</a> from <a href="https://pixabay.com/?utm_source=link-attribution&utm_medium=referral&utm_campaign=image&utm_content=691901">Pixabay</a>
Image by Free-Photos from Pixabay

अगर आप सबसे जल्दी पैसा कामना चाहते है तो वेडिंग फोटोग्राफी से बेहतर कोई विकल्प नहीं है | आपको बस अपना पोर्टफोलियो त्यार करना है और आप किसी  बड़े स्टूडियो में आसानी से काम कर सकते है | अब आप कहेंगे की बिना काम करे आप पोर्टफोलियो कैसे त्यार करे तो इसके लिए आप शुरुआती तोर पर अपने दोस्तों या रिश्तेदारों के लिए काम करे इससे उनके पैसे भी बचेंगे और आपका काम भी होजाएगा | अपनी स्किल्स पर भरोसा रखे और कभी भी काम करने से न डरे | एक बार आपका अच्छा पोर्टफोलियो बनगया तो आप एक शादी में 10 से 40000 रुपये  तक कमा सकते है |

प्रोडक्ट या फैशन फोटोग्राफर

इस केटेगरी में भी आपका पोर्टफोलियो होना बेहद जरुरी है क्यूंकि कोई भी आपको उसके बिना काम नहीं देगा |

सबसे पहले अपना पोर्टफोलियो बनाये और फिर या तो आप किसी कंपनी में जॉब कर सकते है या फिर खुद क प्रोजेक्ट्स से पैसा कमा सकते है | इसमें करीब करीब आप 40000 -75000 तक कमा सकते है अगर आपके काम में दम है तो |

फ्रीलांसर की तरह काम करके

Image by <a href="https://pixabay.com/users/Free-Photos-242387/?utm_source=link-attribution&utm_medium=referral&utm_campaign=image&utm_content=1150033">Free-Photos</a> from <a href="https://pixabay.com/?utm_source=link-attribution&utm_medium=referral&utm_campaign=image&utm_content=1150033">Pixabay</a>
Free Lancer Photographer : Image by Free-Photos from Pixabay

अगर आप एक फ्री लांसर की तरह काम करना चाहते है तो इससे अच्छा विकल्प कुछ नहीं हो सकता |  आप को जरुरत है तो बस ज्यादा से ज्यादा कांटेक्ट बनाने की फ्रीलांसिंग में आप अपने मर्जी के मालिक होते है | फिर आप कोई सा भी काम क्यों न कररहे हो | इसमें कमाए जाने वाले पैसो का कोई अनुमान नहीं  है |

आप जितना चाहो उतना कमा सकते हो |

फोटोज को ऑनलाइन बेचकर

sell online images : Image by mohamed Hassan from Pixabay

यह तरीका थोड़ा धीमा है लेकिन असरदार है | आप फोटोज को imagebaazar, या geetyimages जैसे वेबसाइट पर बेच सकते है | इसके जरिये आप प्रति  महीने 15 से 20 हजार तक कमा सकते है| निचे दी गयी वीडियो बहुत काम आएगी आपके | इसे जरूर देखे |

इसके इलावा और भी बहुत से जरिये है फोइटोग्राफी के जरिये पैसा कमाने के| आप फोटोजॉर्नलिस्म का सहारा ले सकते है | या फिर खुद ही आर्ट गैलरी लगाकर फोटोज को बेच सकते है |

मेरी यही राय है अगर आप फोटोग्राफी में करियर बनाना चाहते है तो खूब अच्छे से मेहनत करे नयी टेक्निको के बारे में जागरूक रहे और Photo Basics  से जुड़े रहे |

यह आर्टिकल अच्छा लगा तो अपने दोस्तों में शेयर करे जो फोटोग्राफी को करियर की तरह देखते है |

आपसे जुड़े सभी सवाल आप मुझसे शेयर कर सकते है सवाल जवाब के माध्यम से |

धन्यवाद्|

lens-feature-image
Learn Photography

Exposure Triangle in Hindi | डिजिटल फोटोग्राफी में Exposure Triangle का इस्तेमाल किस तरह से होता है |

Exposure Triangle in Hindi | Digital Photography में Exposure Triangle का इस्तेमाल किस तरह से होता है |

Manual camera lens : Photo by Aaron Schwartz from Pexels
Manual Camera Lens : Photo by Aaron Schwartz from Pexels

अगर आप इस आर्टिकल पर यह ढूंढने आए हैं कि Exposure triangle क्या होता है तो उससे पहले आपको यह जानना जरूरी है कि एक्सपोजर किसे कहते हैं |

 एक्स्पोज़र का मतलब है की एक फोटो को बनाने के लिए कैमरा द्वारा कितनी लाइट कैप्चर की गई या कैमरा सेंसर ने एक फोटोग्राफ को बनाने के लिए कितनी लाइट को रिकॉर्ड कियाऔर एक सही एक्स्पोज़र को पाने के लिए एक्स्पोज़र ट्रायंगल की आवश्यकता होती है जिस पर हम इसी आर्टिकल में बाद में  सीखेंगे |

  एक इमेज तीन प्रकार से खींची जा सकती है |

1. अंडर  एक्सपोज्ड

2.  ओवर एक्सपोज्ड

3.  नॉरमल एक्सपोज्ड

इन तीनो एक्स्पोज़रस को समझने से पहले  एक बहुत ही महत्वपूर्ण चीज को जान लेना जरूरी है  जो की है आपका

टीटीएल मीटर  इसे “through the lens” मीटर भी कहते है |

टीटीएल मीटर सभी कैमरा में होता है | टीटीएल मीटर आपके लेंस द्वारा कैमरे के अंदर आई गई लाइट को  ना पता  है |  यह मीटर आपके कैमरा में कुछ इस तरह से दिखाई देता है |

through the lens meter reading
TTL Meter

आप अपने कैमरे को किसी भी सब्जेक्ट की तरफ लेकर जाएंगे तो यह मीटर आपको लेंस के द्वारा आई गई लाइट की रीडिंग देगा | इस मीटर में एक छोटा सा बिंदु चमकता है जो आपको बताता है की आपका एक्सपोज़र क्या है |

 यदि यह रीडिंग आपको जीरो से पीछे की तरफ दे रहा है तो आप की इमेज अंडरएक्सपोज्ड आएगी |

 यदि यह रीडिंग आपको जीरो से आगे की तरफ दे रहा है तो आप की इमेज और एक्सपोर्ट जाएगी |

 यदि है रीडिंग आपको हीरो के ऊपर दे रहा है तो आप की इमेज एकदम अच्छे से एक्सपोर्ट आएगी |

 टीटीएल मीटर को अच्छे से समझने के बाद अब हम बात करते हैं एक्स्पोज़र ट्राएंगल की |

 एक्स्पोज़र  ट्रायंगल  जैसे कि नाम से ही पता लग रहा है कि इसके 3 भाग होते हैं |

अपर्चर , ISO   और शटर स्पीड |

 यदि आप तीनों के बारे में जानते हैं तो आप इस आर्टिकल को आगे पढ़ सकते हैं |   यदि आपको नहीं पता कि अपर्चर , ISO   और शटर स्पीड क्या होता है तो  नीचे क्लिक करें |

मै Shutter Speed, ISO, Aperture सीखना चाहता हूँ |

ज्यादातर  फोटोग्राफर  हमेशा परफेक्ट एक्सपोजर या नार्मल एक्सपोजर ही  खींचते हैंलेकिन कुछ कुछ जगह पर फोटोग्राफी को रचनात्मक बनाने के लिए अंडर या ओवरएक्स्पोज़र भेज भी खींची जाती हैइसका पूरा का पूरा चयन फोटोग्राफर करता है की उसे किस तरह की तस्वीर खींचनी है |

ISO , शटर स्पीड और अपर्चर  तीनों के सही मिश्रण से आप एक अच्छी एक्सपोज इमेज खींच सकते हैं|

उदाहरण के तौर पर :-

 मान लीजिए बाहर तेज  दिन के समय में अब एक बच्चे की तस्वीर खींचना चाहते हैं |   आपने पहले से तय किया हुआ है कि आपको बैकग्राउंड ब्लर चाहिएतो आप को इस बात का पता होगा कि आपनंबर सबसे कम रहेंगे जितना भी आपका लेंस आप को अनुमति देता है |

क्योंकि दिन का समय है तो आप ISO  भी 100  पर रखेंगे | आपकी शटर स्पीड पहले से ही 1 /30 है ऐसा हम मन लेते है |    जब आप अपना कैमरा सब्जेक्ट की तरफ करते हैं  तो TTL मीटर में उसकी रीडिंग 0 से ज्यादा है |

इसका मतलब यह है की इमेज ओवर एक्सपोज्ड होगी | अब आप अपर्चर भी नहीं बढ़ाना चाहते और ISO  के साथ भी नहीं खिलवाड़ करना चाहते तो इस स्थिति में आपको शटर स्पीड धीरे धीरे बढ़ानी पड़ेगी तबतक जबतक TTL 0 पर रीडिंग न देने लगजाए |

इसी तरह से आप किसी भी स्थिति में तीनो ISO , शटर स्पीड और अपर्चर को इधर उधर करके एक सही और अछि एक्सपोज्ड इमेज को  खींच सकते है |

निचे दी गयी video से आपको और भी ज्यादा अछे से एक्सपोज़र ट्रायंगल के बारे में समझ आएगा |

Exposure triangle explained
Exposure triangle

तो यह था Exposure triangle in Hindi . मुझे पूरा विश्वास है की आप इससे बहुत कुछ सीखे होंगे |

यदि आपके किसी प्रकार के सवाल इस आर्टिकल के प्रति या फिर फोटोग्राफी से संभंधित  किसी चीज के लिए भी है तो आप मुझसे पूछ सकते है |

पूछने के लिए आप अपना सवाल कमेंट में लिख सकते है |

धन्यवाद् |

बेस्ट कैमरा 30000 तक का कोनसा अच्छा है जानने के लिए क्लिक करे |

white-balance-settings-image
Learn Photography

What is white balance in Photography. इसे किस तरह से इस्तेमाल करते हैं |

What is White Balance और इसे किस तरह से इस्तेमाल करते हैं |

White Balance image
Photo by JESHOOTS.com from Pexels

What is White Balance in Photography?

आशा करता हु की  आप एक्स्पोज़र ट्रायंगल अछे से सिख चुके है यदि नहीं तो यहाँ क्लिक करे और सीखे सही एक्सपोज्ड इमेज कैसे खींचते है |

आपको  अब अछे से फोटो क्लिक करना तो आगया लेकिन   आपने बहुत बार देखा होगा जब भी आप फोटो क्लिक करते हैं तो कभीकभी तो  आपकी फोटो एकदम सही रंग  दिखाती है लेकिन कभी कभी उस पर नीले या पीले रंग का प्रभाव दिखता है |

 इसके पीछे एक कारण है |

 इस चीज को हम बिल्कुल शुरुआत से जोड़ते हैं | यह तो आप जानते ही हैं कि किसी भी फोटो को खींचने के लिए रौशनी  की आवश्यकता होती है बिना रौशनी  की कोई भी फोटो संभव नहीं है | हर रोशनी का अलग रंग तापमान होता है |

हमारी आंखों को ही ले लीजिए हम सिर्फ वही देखते हैं जिन चीजों पर  रौशनी  पड़ती है रौशनी  उन चीजों से टकराकर हमारी आंखों में जाती है और हमारा दिमाग बताता है कि वह चीज क्या है उसका रंग  क्या है वह दिखती  कैसी  है  इत्यादिठीक वैसे ही कैमरे के अंदर भी होता है जब भी हम किसी चीज का फोटो लेते हैं तो जिससे रौशनी से टकराकर हमारी कैमरा के अंदर आती है वह उस सब्जेक्ट का रंग तय  करती है अलगअलग रौशनी के अंदर एक ही सब्जेक्ट अलगअलग  तरह के रंग प्रकाशित करता है|

 हमारी आंखों को भी वह रंग वही दिखाई देते हैं जो अलग अलग रौशनी से प्रकाशित किए  जाते हैलेकिन हमारा दिमाग  उन रंगों को सही कर देता है  उदाहरण के तौर पर  सफेद रंग चाहे वह किसी भी रोशनी के अंदर हो हमे सफ़ेद ही दिखाई देता हैलेकिन कैमरा में ऐसा नहीं है हमें कैमरा को बताना पड़ता है कि कौन सी रोशनी सब्जेक्ट के ऊपर पड़ रही है जिसकी वजह से हमारा कैमरा सफेद को सफेद ही रखें | सफेद रंग को सफेद रंग की तरह ही दिखाने की प्रक्रिया को व्हाइट बैलेंस कहा जाता है |

कलर टेंपरेचर या  रंग तापमान |

 सभी प्रकार की रोशनी में किसी न किसी प्रकार का कलर टेंपरेचर होता है |

 इस कलर टेंपरेचर को हम केल्विन में नापते हैं |

 अलग अलग लाइट  सोर्स का अलगअलग कलर टेंपरेचर होता है |

 उदाहरण के तौर पर :-

 घरों में इस्तेमाल होने वाली लाइट का कलर टेंपरेचर :- 2500  से  3500 K

सूर्योदय व सूर्यास्त के समय पर सूरज की रोशनी का टेंपरेचर :- 3000 से 4000 K

 कैमरा की फ्लैश का टेंपरेचर या सूरज की रोशनी का टेंपरेचर :- 5000 से 6000 K  

 जब काफी ज्यादा बादल हो उस समय लाइट का टेंपरेचर :- 6500 से 10000 K

आपके कैमरा में कुछ इस तरह से दिखता है व्हाइट बैलेंस  :-

white balance in camera screen
White Balance in camera

जैसा कि आपने देखा शुरुआती तौर पर आपका व्हाइट बैलेंस हमेशा ऑटो में ही रहता है |

 बहुत से कैमरा मैन्युफैक्चरर्स  ऑटो  व्हाइट बैलेंस मोड को इतना सक्षम बना देते हैं कि काफी बार आपको व्हाइट बैलेंस बदलने की जरूरत ही नहीं पड़ती|

 लेकिन  अगर ऑटो व्हाइट बैलेंस रखने के बावजूद भी आपकी फोटो पर नीला या पीले रंग का प्रभाव ज्यादा पड़ रहा है तो आप नीचे दिए गए  कुछ लाइट सोर्सेस का चयन कर सकते हैं |

कैमरा में दिए गए लाइट सोर्स का कलर टेंपरेचर नीचे दिया गया है |

इंकंडेसेंट :-  इसका कलर टेंपरेचर 2400 से 3000K तक रहता है |

फ्लोरोसेंट :- इसका कलर टेंपरेचर 3500 से 4100K  तक रहता है |

डायरेक्ट सनलाइट :- इसका कलर टेंपरेचर  5000 से 6500K तक रहता है |

फ़्लैश :- इसका कलर टेंपरेचर 5500 से 6000 K तक रहता है |

क्लॉउडी :- इसका कलर टेंपरेचर 6500 से 7500 K तक रहता है |

शेड :- इसका कलर टेंपरेचर 9000 से 10000K  तक रहता है |

इसके अलावा काफी  सारे कैमरा  मैं K  प्रीसेट की भी सुविधा होती है |

 जिसकी मदद से आप अपने हिसाब से अपना वाइट बैलेंस का चयन कर सकते है की आपको कितना कलर टेम्परेचर चाहिए अपनी फोटो के अंदर |

निचे इमेज में एक ही फोटो को अलग White Balance पर खींचा गया है जिससे आपको अचे से मतलब समझ में आये |

Different white balance
Different White Balance

Custom White Balance

अगर यह आर्टिकल आपको अछा लगा तो अपने दोस्तों क साथ शेयर जरूर करे | और इससे जुड़े कोई भी सवाल आप मुझसे पूछ सकते है क्वेश्चन एंड आंसर वाले पेज पर |

आशा करता हु की आपको वाइट बैलेंस का मतलब समझ में आगया होगा |

आर्टिकल पड़ने के लिए धन्यवाद् |

क्या आप photography basics जानना चाहते है तो यह आर्टिकल पढ़े |

Lenses
Learn Photography

कैमरा लेंस और Camera Lens के प्रकार | Camera लेंस खरीदने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए|

आपके लिए कोनसा camera लेंस है बेहतर|  कैमरा लेंस और उसके प्रकार?

कैमरा लेंस क्या है |

 जैसे आज के ज़माने में इंटरनेट के बिना मोबाइल फोन अधूरा है ठीक उसी तरह लेंस के बिना कैमरा भी अधूरा है |

camera लेंस ही एकमात्र  ऐसा उपकरण है जिसके जरिए कैमरा सेंसर तक लाइट पहुंचती है |

 अगर आप काफी समय से  फोटोग्राफी कर रहे हैं तो आपको इस बात का पता होगा कि कैमरा लेंस किस तरह से काम करता है | यदि आप जानते हैं कि कैमरा लेंस किस तरह से काम करता है और आप यह जानना चाहते हैं कि आपको किस तरह का लेंस खरीदना चाहिए तो आप अगले कुछ पैराग्राफ  को छोड़कर  आगे बढ़ सकते हैं

 और यदि आप जानना चाहते हैं कि कैमरा लेंस किस तरह से काम करता है तो आगे पढ़ते रहिए |

 कैमरे न केवल एक छवि पर ध्यान केंद्रित करने के लिए बल्कि इसे बढ़ाने के लिए कन्वर्जिंग  लेंस का उपयोग करते हैं। अधिकांश कैमरा लेंस में एककन्वर्जिंग लेंस होता है, जिसके बाद डायवर्जिंग लेंस होता है और उसके बाद दूसरा कन्वर्जिंग  लेंस होता है।

पहला लेंस ऑब्जेक्ट की ओर या दूर जाकर छवि के मैग्निफिकेशन को नियंत्रित करता है। प्रकाश पहले लेंस के माध्यम से और डायवर्जिंग लेंस के माध्यम से गुजरता है, जो उलटा छवि को फ़्लिप करता है। अंतिम कन्वर्जिंग  लेंस तब अंतिम बार छवि को निष्क्रिय कर देता है और कैमरे के पीछे छवि को वितरित करता है। छवि तब फिल्म या डिजिटल मीडिया सतह पर प्रिंट होती है।

क्या आप जानते हैं कि हमारा दिमाग भी कुछ इसी तरह से काम करता है |  जब भी हम किसी चीज को देखते हैं तो उसकी पहली जो इमेज बनती है वह हमेशा upside-down बनती है यानी की उल्टी बनती है लेकिन हमारा दिमाग इतना शक्तिशाली है उस चीज को सीधा करके हमें दिखाता है |

 आपने देखा होगा कि कुछ लेंस सस्ते होते हैं और कुछ लेंस महंगे होते हैं लेंस के महंगे होने का कारण दरअसल उसके अंदर के छोटेछोटे  लेंस  में जो मेटेरियल यूज़ हुआ है उसके ऊपर निर्भर करता हैअगर वह ग्लास अच्छी क्वालिटी का है और हैवी है तो आप का लेंस  महंगा होगाऔर यह हम सब जानते हैं की लेंस कैमरा के सबसे महंगा  हिस्सा  होते हैं |

Types of lenses and their use
Types of lenses and their use

लेंस को हम मिलीमीटर में नापते है | जो की कन्वर्जिंग लेंस से सेंसर की दूरी होती है |

यह तो होगयी लेंस की बात अब बात करते है की लेंस कितने प्रकार के होते है और आपके लिए कोनसा लेंस सही है |

camera लेंस को यहां 6 भागो में बांटा है | जिसमे से पहला camera lens है


फिक्स्ड camera लेंस , स्टैण्डर्ड प्राइम लेंस  या ब्लॉक लेंस क्या होता है  |

Prime Lens

इस लेंस को आप कुछ भी बुला सकते है | जैसा की नाम से ही साफ है की यह फिक्स्ड फोकल लेंथ क लेंस होते है |

मतलब यदि आप 85 mm का लेंस चुनते है तो आप उसे ज़ूम नहीं कर पाएंगे |

प्राइम लेंस ज्यादातर पोर्ट्रेट फोटोग्राफी में इस्तेमाल होते है | लेकिन आप इन्हे कही भी इस्तेमाल कर सकते है ये लेन्सेस हर बजट में आते है |

इस लेंस का अपर्चर वैल्यू काफी काम तक हो सकता है जिसके कारन यह लेंस अछि शार्प इमेज दे सकते है और काम लाइट के अंदर काफी सहायक है | यह लेंस लाइट  वेट के  भी होते है ज़ूम  लेंस के मुकाबले |


ज़ूम camera लेंस

canon zoom lens
Zoom Lens

यह camera लेंस बेहद ही शानदार होते है क्यूंकि यह आपको उन जगहों की भी तस्वीर लेने में मदद करते है

जहां आप पहुंच भी नाही सकते | उदाहरण के तौर पर आप एक वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में है  और दूर खड़े एक शेर की फोटो खींचना चाहते हैं यदि आपके पास जूम लेंस है तो आपके लिए यह बहुत ही आसान हो जाएगा जूम लेंस के जरिए आप सिर्फ और सिर्फ शेर को ही अपने  पफ्रेम में ला पाएंगे अन्यथा आप सभी आसपड़ोस के चीजों को भी अपने फ्रेम का हिस्सा बना बैठेंगे |

कुछ बेहद पॉपुलर ज़ूम लेंस है  55 – 250 mm , 70 – 200 mm यह लेंस 70 से लेकर सीधा 200 mm  तक आपको ज़ूम रेंज देता है |


what is wide angle camera लेंस |

Wide angle lens
Wide angle lens

जैसा की नाम से ही साफ है वाइड एंगल लेंस आपको बहुत ही ज्यादा बड़ी फील्ड ऑफ  व्यू  यानी देखने की जगह  देते हैं |

 इनका इस्तेमाल ज्यादातर  लैंडस्केप फोटोग्राफी में होता है  लेकिन आजकल वेडिंग फोटोग्राफी में भी है कुछ क्रिएटिव  फोटो खींचने के लिए  वाइट लेंस का इस्तेमाल होता है |

 यह लेंस  काफी अफॉर्डेबल होते हैंलेकिन इस लेंस के साथ में  यह दिक्कत है यह  वाइड  होने के साथसाथ  आपकी फोटो में डिस्टॉर्शन भी लाता हैडिस्टॉर्शन का अर्थ है  आपकी फोटो  सामान्य से थोड़ी अलग दिखती है |

 इस  डिस्टॉर्शन को बाद में एडिटिंग के जरिए हम ठीक कर सकते हैं |

वाइड लेंस में पॉपुलर रेंज है 24mm,14mm,28mm इत्यादि |


what is telephoto camera लेंस

telephoto lens
Telephoto Lens

 यह दरअसल जूम लेंस की ही एक कैटेगरी है जिसके जरिए आप काफी दूर बैठकर किसी भी सब्जेक्ट का फोटोग्राफ ले सकते हैंजैसे कि क्रिकेट के मैच में पिच पर खेल रहे खिलाड़ी की फोटो आप स्टेडियम में दर्शकों के साथ बैठकर भी खींच सकते हैं वह भी एकदम साफ|

 टेलिफोटो की कैटेगरी में 70mm  से ऊपर की सारी ज़ूम रेंज के लेंस आते है |

 टेलिफोटो लेंस  अमूमन  काफी महंगे होते हैंऔर इनकी इमेज क्वालिटी भी काफी ज्यादा अच्छी होती है |

 इनके अंदर का इस्तेमाल किया जाने वाला ग्लास का मेटेरियल उत्तम क्वालिटी का होता है|

 टेलिफोटो लेंस में पॉपुलर रेंज है 100 – 400mm , 70 – 300mm इत्यादि |


what is फिश आई लेंस |

Fish Eye Lens
Fish Eye lens

 जैसा कि नाम से ही आप लोगों को समझ आ गया होगा यह लेंस  फिश यानी मछली  की आंख की तरह होता हैमछली की आंख काफी हद तक अपने आगे और पीछे का एरिया मिलाकर तकरीबन 100 से 180 डिग्री तक देख सकती है ठीक उसी तरह यह लेंस भी बनाया गया है जो कि 100 से 180 डिग्री तक का  व्यू   आपको देता है | 8 – 24mm  तक की रेंज में फिश ऑय लेन्सेस आते है |


what is मैक्रो लेंस |

Macro Lens इमेज
Macro Lens

मान लीजिए कि आपको किसी भी चीज का बेहद करीब से फोटो लेना है या किसी छोटी सी अंगूठी की डिटेल्स अब दिखाना चाहते हैं तो वहां पर इस्तेमाल होता है मैक्रो लेंस यह बेहद बारीक चीजों का भी काफी ज्यादा डिटेल में फोटो खींचता है फिर चाहे वह पानी की बूंद हो कोई कीड़ा हो या बारीक से बारीक बाल   भी |  आपका यह सवाल होगा  कि हम किसी भी लेंस  से बारीकी से फोटो खींच सकते हैं तो फिर माइक्रोलेंस अलग से क्यों बनाएं गए| दरअसल बाकी के  आपको सब्जेक्ट के ज्यादा पास नहीं जाने देते या यूं कहे कि आप ज्यादा करीब जाकर सब्जेक्ट है फोकस नहीं कर पाएंगे दूसरे लैंसेज का इस्तेमाल करके |

 इसी वजह से माइक्रोलेंस बने हैं  जो बेहद करीब से भी फोकस कर सकते हैं|

85mm  100mm जैसे लेंस मैक्रो लेंस में शामिल है |

ये सभी लेन्सेस एक साथ लेना तो बेहद नासमझी वाली बात होगी क्यूंकि आप एक बारि में केवल एक ही लेंस का इस्तेमाल कर पाएंगे तो सवाल यह है की आप कोनसा लेंस ले सकते है |

ये निर्णय आपका ही होगा मानलीजिएआपकी रुची जानवरो की तस्वीरें खींचने में ज्यादा है | तो आप अपने बजट के हिसाब से टेलिफोटो लेंस में ही इन्वेस्ट करेंगे |

 मान लीजिए आप एक ही लाइन से काफी तरह की फोटोग्राफी करना चाहते हैं तो उसके लिए 24-70mm   सही रहेगा यह लेंस आपका स्ट्रीट फोटोग्राफी लैंडस्केप फोटोग्राफी वेडिंग फोटोग्राफी पोर्ट्रेट फोटोग्राफी प्रोडक्ट फोटोग्राफी जैसी कई सारी जरूरतें पूरी कर देगा |

यह वीडियो आपको ज्यादा अच्छे से समझाएगी की लेन्सेस कितने प्रकार के होते है |

 मैं आशा करता हूं कि आप को लैंसेज के बारे में  भरपूर ज्ञान मिल गया होगा  यदि आप कैसे संबंधित कोई भी प्रश्न है तो आप मुझे सवाल जवाब वाले पेज पर पूछ सकते हैंया फिर  हमारे फेसबुक ग्रुप में जाकर भी यह सवाल आप पूछ सकते हैं  जहां पर आप के साथ साथ काफी और लोग भी फोटोग्राफी से संबंधित सवाल जवाब करते हैं |

 अगर आप कोई आर्टिकल पसंद आया तो इसे शेयर जरूर करें  और इससे बुकमार्क करके रख ले |

 ताकि बाद में आपको कभी भी जरूरत पड़े लैंसेज के बारे में जानने की तो इसे बड़ी आसानी से आप देख सके |

 इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए धन्यवाद | आगे पढ़े

which dslr to buy
Learn Photography

Best dslr under 30000 | Best camera under 30000 in India 2019|

Photo by C. Cagnin from Pexels

7 Best dslr under 30000 in India 2019 |


 फोटोग्राफी एक  महंगे शौक है यह तो सभी लोग कहते हैंलेकिन शुरुआती तौर पर यह जरूरी नहीं कि आप महंगे कैमरा में ही इन्वेस्ट करेअगर आप एडवांस फोटोग्राफी सीखना चाहते हैं  तो DSLR  से अच्छी पसंद  कुछ नहीं हो सकतीयह आपको फोटोग्राफी के एकदम मूल नियम वह तकनीक सीखने में सहायता करेगा |

 क्योंकि डीएसएलआर  एक इन्वेस्टमेंट है इसलिए  अगर आप फोटोग्राफी में  नए  है  तो आपको  शुरुआती लेवल के  डीएसएलआर  खरीदनी चाहिए  और जैसेजैसे आप अपना ज्ञान  बढ़ाते जाएंगे  वैसे वैसे आप प्रोफेशनल और महंगे डीएसएलआर के लिए भी जा सकते हैं|

 आपके लिए  Best camera under 30000 in india 2019  का चयन इस आर्टिकल में किया है |जो आपको शुरुआती तौर पर फोटोग्राफी सीखने में काफी सहायता करेंगे |

Canon Eos 1300D

FUJIFILM X-T100

Canon EOS 1500D

Nikon D5200

NIKON D3400

 

यह चारों के चारों कैमरा आपके लिए शॉर्टलिस्ट  किए हैंहै नीचे इन कैमरा के बारे में बताया है की आपको कोनसा कैमरा  क्यों खरीदना चाहिए |


Canon Eos 1300D

Canon 1300 d
Canon 1300D Image Source :- Flipkart

मेगापिक्सेल :- 18 मेगा पिक्सेल

वीडियो रेसोलुशन :- फुल HD

सेंसर :- APS-C CMOS

वजन :- 458  ग्राम

 ISO रेंज:- 100 – 6400

यह कैमरा वाईफाई फीचर के साथ आता है जिसके जरिए आप अपनी तस्वीरें खींच कर अपने फोन में डायरेक्ट ट्रांसफर कर सकते हैयह सीक्रेट कैमरा को काफी आसान बना देता है  फोटो ट्रांसफर करने के मामले में |

 इस कैमरा में DICIG 4+  प्रोसेसर है जो कि आपकी इमेज को काफी अच्छे कलर्स और काफी अच्छी डीटेल्स देता है |

 इस कैमरे की कीमत यहां देखें :-

FUJIFILM X-T100

fujifilm camera best dslr under 30000
fujifilm X-T 100

ये सच है की ये एक मिर्रोरलेस कैमरा है लेकिन इसके बावजूद ये dslr से बहुत मिलता जुलता है |

इस कैमरा की बैटरी लाइफ कमाल की है और वेट भी डसलर से कम | इसकी एक खास बात की ये 4k रिकॉर्डिंग करता है लेकिन 15 fps पर| इस कैमरा के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए निचे क्लिक करे |

this image check the latest price of the product

Canon EOS 1500D

Canon 1500 D
Canon 1500D Image Source :- Amazon.in

मेगापिक्सेल :- 24 मेगा पिक्सेल

वीडियो रेसोलुशन :- फुल HD

सेंसर :- APS-C CMOS

वजन :- 475 ग्राम

 ISO रेंज:- 100 – 6400

Canon EOS 1500D का रेसोलुशन 24 मेगापिक्सेल है जिसकी वजह से इसमें खींची गयी तस्वीर में काफी डिटेल्स देखने को मिल जाती है | इसमें भी आपको wifi सपोर्ट मिलेगा और यह कैमरा दिगिक 4 + प्रोसेसर पर चलता है|

इस कैमरा को सिखने में आपको बिलकुल परेशानी नहीं होगी क्योंकि इसके अंदर बेहद काम बटन्स है और कुछ ऐसे भी बटन्स है जिन्हे आप अपने हिसाब से सेट कर सकते है |

यहाँ देखे कितने का है


Nikon D5200

Nikon D5200
Nikon D5200 Image Source :- Digital Rev

मेगापिक्सेल :- 24.1 मेगा पिक्सेल

वीडियो रेसोलुशन :- फुल HD

सेंसर :- APS-C CMOS

वजन :- 505 ग्राम

 ISO रेंज:- 100 – 6400(इसे बढाया जा सकता है 25600 तक)

Nikon D5200 में Expeed 3 इमेजप्रोसेसर इंजन फोटो के रंगो को सुधरने में बहुत बड़ा

योगदान देता है |

इसका RGB पिक्सेल सेंसर एकदम सही ब्राइटनेस पतालगलेता है जोकी बहुत  उपयोगी है |

इसके साथ साथ ही इसके आईएसओ को 25600  तक बढ़ाया जा सकता है  जो कि हमें किसी भी लाइफ में फोटो  खींचना आसान बना देता है |

 इसके साथ साथ इसमें आपफोटोज एक साथ खींच सकते हो बिना रुकेजोकि आपकी तेज भागते हुए सब्जेक्ट को आसानी से कैप्चर करने में मदद करता है |

 यहाँ देखे  कितने का है


NIKON D3400

        मेगापिक्सेल :- 24.1 मेगा पिक्सेल

         वीडियो रेसोलुशन :- फुल HD , 60 एफपीएस भी रिकॉर्ड करता है

       सेंसर :- APS-C CMOS

       वजन :- 445 ग्राम

       ISO रेंज:- 100 – 6400(इसे बढाया जा सकता है 25600 तक)

NIKON D3400 बेहद भरोसेमंद कैमरा हैयह लगातारएफपीएस  यानी फ्रेम पर सेकंड पर  फोटो खींच सकता है|

 इसकी बैटरी भी काफी अच्छी है यह एक बारी में 1200  फोटोज तक खींच सकती है |

 दूसरी खूब इसमें यह है कि है वाईफाई कनेक्टिविटी देता हैऔर इसमें भी EXPEED 4 प्रोसेसर है  जो आपकी फोटो को  ओढ़नी हारकर आपके सामने पेश करता है|

 इस कैमरा के जरिए  आप  60 फ्रेम पर सेकंड पर  वीडियो रिकॉर्डिंग भी कर सकते हैं|

 इन सभी खूबियों के साथ साथ  यह कैमरा आपको  25600  तक की आईएसओ रेंज देता है |

 यहां देखें कितने का है


 इन कैमरा में और भी बहुत सारे फीचर्स है लेकिन इस आर्टिकल में सिर्फ और सिर्फ वही दिखाया गया है जो कि इन कैमरा को बाकी कैमरा से अलग दिखाता है|

Best dslr under 30000 in India 2019

की लिस्ट में कुछ और cameras भी है | ये DSLR नहीं है ब्रिज कैमरा है | इनका लेंस चेंज नहीं कर सकते लेकिन इनका ज़ूम बहुत अच्छा होता है | यह cameras में भी मैन्युअल कण्ट्रोल है जानिए कोनसे है वो cameras .

Canon PowerShot SX430 IS Bridge Camera

Image contains camera canon sx430
Sx430 Source :- Canon NZ

इस कैमरा के कुछ खास फीचर्स है |

कैमरा का वजन 830 g
कैमरा का साइज 19.6 x 16.4 x 15.2 cm
कैमरा की बैटरी 1 Lithium ion batteries required.
कैमरा का Resolution20 megapixels
इसका Optical Zoom45 X
इसका Optical Sensor Resolution20 Megapixels
इसका Video Capture Resolutionfull hd (1920×1080)
Connector TypeWi-Fi, NFC

इस कमेरा को आप 45 गुना ज्यादा ज़ूम कर सकते हो | यानी अगर आपको वाइल्डलाइफ फोटोग्राफी में रुचि है या आप को पक्षिओ में है रुचि तो आप इस कैमरा को आजमा सकते हो |

ज्यादा जानकारी और इसका प्राइस जानने के लिए निचे क्लिक करे |

this image check the latest price of the product

Sony CyberShot DSC-H300 Point & Shoot Camera

image contains sony point and shoot camera it is the best camera under 30000
Sony Point and shoot Source :- Sony India

इस कैमरा के कुछ खास फीचर्स

कैमरा का वज़न 590 g
कैमरा का साइज 9.2 x 12.8 x 8.9 cm
बैटरीज 2 AA batteries required.
कैमरा का रेसोलुशन 20.1 megapixels
इमेज Stabilisation Yes
कैमरा का optical ज़ूम 35 X
कैमरा का Digital Zoom2 X
वीडियो स्क्रीन रेसोलुशन 720p HD Ready
मैक्स Resolution20.4 Megapixels
Max Shutter Speed30 Seconds
Min Shutter Speed1/1500 Seconds
Min Aperture3
Min Focal Length27.2 Millimeters
वीडियोस Capture Resolutionhd (1280×720)
फ़्लैश मोड्स Auto / Flash on / Slow Synchro / Advanced Flash / Flash Off
इसका viewfinder digital
Audio Recording होती है Yes
Auto FocusYes
Redeye ReductionYes
Self TimerYes

इस कैमरा में DSLR जैसे ही क्रिएटिव कंट्रोल्स है और इसमें इमेज स्टैबिलिसशन भी है मतलब आपके ज़ूम करने के बाद भी शॉट्स बलर नहीं होंगे | यह आपको मैन्युअल कण्ट्रोल देता है जिसके वजह से आप मैन्युअली अपर्चर , shutter speed जैसे फैक्टर्स को कण्ट्रोल कर सकते है | यह कैमरा आपको अंदर ही पैनोरमा खींचने का ऑप्शन भी देता है |

this image check the latest price of the product

 अगर आपको इनमें से कोई भी कैमरा पसंद आता है तो उसके नाम पर क्लिक करके आप यह कैमरा के बारे में और जानकारी जान सकते हैं |

तो यह थे कुछ Best dslr under 30000 in india 2019

अगर यह आर्टिकल आपको अच्छा लगा तो इसे जरूर शेयर करेंऔर यदि फोटोग्राफी से संबंधित कोई और जानकारी आप लेना चाहते हैं  तो इस वेबसाइट पर और बहुत से आर्टिकल है जो कि आपके काफी सारे सवालों के जवाब दे देंगे |

 अगर आप इसके इलावा भी कोई कैमरा जानते हैं  जो इस लिस्ट में  जुड़ना चाहिए तो वह मुझे कमेंट में बताएं |

 इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए धन्यवाद |

Selfie Poses Ideas यहाँ देखे |